छत्तीसगढ़

बस्तर में कांग्रेस का एक बड़ा तमाशा हुआ है. नाम दिया गया भरोसे का सम्मेलन-पूर्व मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह

Ghoomata Darpan

बस्तर में कांग्रेस का एक बड़ा तमाशा हुआ है. नाम दिया गया भरोसे का सम्मेलन-पूर्व मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह

बस्तर । अपने दो दिवसीय बस्तर प्रवास पर पहुंचे भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष व पूर्व मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह ने कांग्रेस सरकार पर जमकर हमला बोला और बस्तर में किए गए आयोजित भरोसे का सम्मेलन पर जमकर निशाना साधा है. पूर्व मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह ने आरोप लगाया है कि बस्तर में कांग्रेस का एक बड़ा तमाशा हुआ है. नाम दिया गया भरोसे का सम्मेलन. चुनाव के 6 महीने पहले क्या जरूरत पड़ गई जो साड़े 4 साल की सरकार को भरोसा दिलाने के लिए स्वयं दिल्ली जाकर प्लेन में बैठाकर प्रियंका गांधी को बस्तर की जमीन पर लाने का काम किया गया. इसके पीछे का कारण क्या है. इसे समझने की आवश्यकता है कि जो भरोसा राहुल गांधी ने साढ़े 4 साल पहले दिलाया था. वो भरोसा टूट चुका है. खंड खंड हो चुका है. राहुल गांधी की उपस्थिति में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने छत्तीसगढ़ में पूर्ण शराबबंदी करने का वादा किया था. और अब भूपेश बघेल कह रहे हैं कि लोग शराब पीना बंद कर दो तो शराबबंदी हो जाएगी. जब लोग शराब पीना बंद कर देंगे तो मुख्यमंत्री से पूछने की जरूरत नहीं है. जिस प्रकार गांव गांव में अवैध रूप से शराब बिकवा रहे हो. आहता खोलकर गाँव का वातावरण बिगड़ रहे हो. जिस प्रकार शराब की 30% की अवैध कमाई कर रहे हो. 30% अवैध पैसे का हिसाब ईडी निकालेगी. अब प्रियंका गांधी को बुलाकर नया वादा करने के लिए भरोसा दिलाने के लिए ला रहे हो. सरकारी तंत्र का दुरुपयोग करते हुए बड़ी भीड़ के जरिए कांग्रेस ने अपने झूठे वादों को पूरा नहीं कर पाने की ना कामयाबी को छुपाने की कोशिश की है. डॉ रमन सिंह ने कहा कि जिला पंचायत, जनपद पंचायत और लैम्प्स स्तर के अधिकारियों को भीड़ जुटाने के लिए दस्तावेज मिला था. जो भाजपा के पास मौजूद है.

इसके साथ ही डॉक्टर रमन सिंह ने कहा कि 10 लाख नव युवकों को बेरोजगारी भत्ता देने का वादा कांग्रेस की सरकार ने किया था. और जब समय आ गया है तब कांग्रेस गिनती गिन रही है कि 10-20 हजार लोगों बेरोजगारों को भत्ता दें. इसके साथ ही 2 साल का बोनस देने की बात कांग्रेस ने की थी. साडे 4 साल बीत गए और अभी तक 2 साल का बोनस नहीं मिला. केवल गौठान के नाम पर पूरा पैसा बर्बाद हो रहा है. ईडी ने कार्यवाही करते हुए 600 करोड़ की संपत्ति जप्त कर दी है. इसके अलावा डॉ रमन सिंह ने कांग्रेस की सरकार पर कोई भी विकास काम नहीं करने का आरोप लगाया है इसके साथ ही कई भ्रष्टाचार के भी आरोप में लिप्त होने की बात कही है. नक्सलवाद को लेकर उन्होंने कहा कि बस्तर से नक्सली खत्म होने के दावा राज्य सरकार कर रही है दरअसल फोर्स को किसी भी प्रकार के निर्देश नहीं दिए जा रहे हैं यही वजह है कि नक्सली के हौसले बढ़ गए हैं और वह अपने पैर फैला रहे हैं. इसके अलावा 2023 विधानसभा चुनाव पर उन्होंने बयान देते हुए कहा कि 2003, 2008 और 2013 के मुकाबले 2023 विधानसभा चुनाव के परिणाम बेहतर होंगे. उसके बाद चुनाव को लेकर पूर्व मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह भाजपा कार्यालय में अपने कार्यकर्ताओं और पदाधिकारियों के साथ बैठक ली और चुनावी मूलमंत्र भी दिया है।


Ghoomata Darpan

Ghoomata Darpan

घूमता दर्पण, कोयलांचल में 1993 से विश्वसनीयता के लिए प्रसिद्ध अखबार है, सोशल मीडिया के जमाने मे आपको तेज, सटीक व निष्पक्ष न्यूज पहुचाने के लिए इस वेबसाईट का प्रारंभ किया गया है । संस्थापक संपादक प्रवीण निशी का पत्रकारिता मे तीन दशक का अनुभव है। छत्तीसगढ़ की ग्राउन्ड रिपोर्टिंग तथा देश-दुनिया की तमाम खबरों के विश्लेषण के लिए आज ही देखे घूमता दर्पण

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button