छत्तीसगढ़

कलेक्टर ने दूरस्थ धान खरीदी केन्द्र का किया आकस्मिक निरीक्षण, दिया निर्देश तौल में सही वजन का रखें ध्यान- विनय लंगेह

चार कर्मियों को शोकाज नोटिस, बारदाना प्रभारी को हटाने के निर्देश

Ghoomata Darpan

कलेक्टर ने दूरस्थ धान खरीदी केन्द्र का किया आकस्मिक निरीक्षण, दिया निर्देश तौल में सही वजन का रखें ध्यान- विनय लंगेह कलेक्टर ने दूरस्थ धान खरीदी केन्द्र का किया आकस्मिक निरीक्षण, दिया निर्देश तौल में सही वजन का रखें ध्यान- विनय लंगेह
कोरिया 10 जनवरी 2024/
कलेक्टर  विनय कुमार लंगेह लगातार धान खरीदी केन्द्रों का दौरा कर रहे हैं, बल्कि वहां पहुंचकर सीधे किसानों से चर्चा कर उनकी समस्याओं, परेशानियों के बारे में पूछ भी रहे हैं।
इसी कड़ी में आज जिले के सोनहत विकासखण्ड के दूरस्थ धान खरीदी केन्द्र रामगढ़ का आकास्मिक निरीक्षण किया। श्री लंगेह ने पंजीकृत किसानों से चर्चा की, उनकी समस्याओं के बारे में जानकारी ली। श्री लंगेह ने इस अवसर पर नोडल अधिकारियों को स्पष्ट निर्देश दिए कि किसी भी तरह की लापरवाही बरती गई तो सीधे कड़ी कार्यवाही की जाएगी। जिले के सभी धान केन्द्रों में बड़ी संख्या में धान बेचने वाले किसान पहुंच रहे हैं।
श्री लंगेह ने निरीक्षण के दौरान समिति में कुल 1 हजार 228 नग पुराने जूट बारदाने अधिक पाए गए जो नियमानुसार गलत था, जिसे मौके पर जब्ती की गई। तथा किसानों से हमाली कार्य कराने जैसे कृत्य के लिए समिति प्रबंधक गोविंद दुबे, फूड प्रभारी रामचन्द्र, बारदाना प्रभारी शैलेश्वर सिंह व सहायक नोडल अधिकारी सुखीराम लकड़ा को तत्काल शो-काज नोटिस जारी करने के निर्देश दिए गए साथ ही बारदाना प्रभारी को तत्काल प्रभाव से हटाने के निर्देश भी दिए गए।
कलेक्टर ने किसानों से किसी भी प्रकार पैसे की मांग की शिकायत आने पर कड़ी कार्यवाही करने की बात कही। मौसम को देखते हुए कहा कि धान के रखरखाव के लिए उचित प्रबंध करने के निर्देश दिए ताकि बारिश से धान को सुरक्षित रख सकें।
बता दें राज्य शासन द्वारा जिला प्रशासन धान खरीदी को बेहद गंभीरता से लिए हुए हैं। अवैध धान खरीदी परिवहन, भण्डारण, कोचियों पर नकेल कसी जा रही है।  बता दें 1 नवम्बर 2023 से धान खरीदी शुरू हुआ है, जो 31 जनवरी 2024 तक चलेगी। जिले में इस वर्ष पंजीकृत किसानों की संख्या 22 हजार 274 है, वहीं धान बोए गए रकबे 29 हजार 771 हेक्टेयर है। इस वर्ष जिले में 22 धान खरीदी केन्द्र बनाए गए हैं।


Ghoomata Darpan

Ghoomata Darpan

घूमता दर्पण, कोयलांचल में 1993 से विश्वसनीयता के लिए प्रसिद्ध अखबार है, सोशल मीडिया के जमाने मे आपको तेज, सटीक व निष्पक्ष न्यूज पहुचाने के लिए इस वेबसाईट का प्रारंभ किया गया है । संस्थापक संपादक प्रवीण निशी का पत्रकारिता मे तीन दशक का अनुभव है। छत्तीसगढ़ की ग्राउन्ड रिपोर्टिंग तथा देश-दुनिया की तमाम खबरों के विश्लेषण के लिए आज ही देखे घूमता दर्पण

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button