छत्तीसगढ़

इन पत्थरों के शहर में जीना मुहाल है….. हर शख्श कह रहा है मुझे देवता कहो…..!

वरिष्ठ पत्रकार शंकर पांडे की कलम से

Ghoomata Darpan

देश में लोकसभा चुनाव शुरू हो चुके हैं,पहले चरण का मतदान 19 अप्रेल को होना है,10 साल से केंद्र में सत्ताधारी भाजपा 400 पार के दावे कर रहीं है तो विपक्षी गठबंधन के अपने दावे हैं?वैसे अभी कुछलोस सीटों पर प्रत्याशी की भी घोषणा बाकी है। छ्ग में भाजपा सभी 11 लोस में जीतने का अभी से दावा कर रहा है, प्रमुख विपक्षी दल कांग्रेस 3 से 4 सीटों पर अपनी जीत तय मान कर चल रहा है…?

राहुल गाँधी के खिलाफ
भाजपा का यह प्रत्याशी?

इन पत्थरों के शहर में जीना मुहाल है….. हर शख्श कह रहा है मुझे देवता कहो…..!

इन पत्थरों के शहर में जीना मुहाल है….. हर शख्श कह रहा है मुझे देवता कहो…..!

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने केरल के वायनाड से लोक सभा चुनाव 2024 का नामांकन भरा है।उनके विरुद्ध सीपीआई ने एनी राजा तो भाजपा ने अपने प्रदेश अध्यक्ष के. सुरेन्द्रन को प्रत्याशी बनाया है।चुनाव आयोग को दिये गये रिकॉर्ड के अनुसार,सुरेंद्रन के खिलाफ करीब 242 आपराधिक केस दर्ज हैं। इन 242 में से भी 237 केस तो सिर्फ सबरीमाला विवाद से जुड़े हैं। 5 केस अन्य मामलों में दर्ज हुये हैं। सुरेंद्रन सबरीमाला विवाद में गिरफ्तार भी हो चुके हैं।करीब एक महीना जेल में बिताया था।मई 2017 में वे मवेशियों की बिक्री पर केंद्र के प्रतिबंध का विरोध किया था।भाजपा के इस प्रत्याशी सुरेंद्रन पर 2021 में बसपा प्रत्याशी को उम्मीदवारी छोड़ने धमकाने और रिश्वत ऑफर करने का आरोप भी है।के सुरेंद्रन के बारे में सबसे दिलचस्प बात यह है राजनीतिक केरियर में 8 बार चुनाव लड़ा, आठों बार चुनाव में हारे। वे 3 लोकसभा और 5 विधानसभा चुनाव हार चुके हैं। इसके बावजूद भाजपा ने उन पर भरोसा जताकर उन्हें चौथी बार वायनाड से लोकसभा उम्मीदवार बनाया है।

रेल, बुजुर्गो की रियायत
बंद को आय से जोड़ा..?

इन पत्थरों के शहर में जीना मुहाल है….. हर शख्श कह रहा है मुझे देवता कहो…..!

पीएम नरेंद्र मोदी कहते हैं, भारत की 120 करोड़ जनता उनका परिवार है पर उनमें वृद्ध शायद शामिल नहीं हैं..? तभी तो उनके रेलमंत्री, बुजुर्गो की रेल रियायत समाप्ती से होने वाली आय को अतिरिक्त लाभ बता रहे हैं…?रेल मंत्री अश्‍व‍िनी वैष्णव का कहना है कि भारतीय रेलवे ने वित्तीय वर्ष 20 23-24 में 2.56 लाख करोड़ रुपये का राजस्‍व दर्ज क‍िया है, इधर एक आरटीआई से पता चला क‍ि सीनियर सिटीजन्स को ट्रेन टिकट पर म‍िलने वाली छूट को बंद करने का फायदा रेलवे को हुआ,दरअसल कोरोना काल से पहले रेलवे की तरफ से वर‍िष्‍ठ नागर‍िकों को ट्रेन टिकट लेने पर छूट द‍ी जाती थी। कोरोनाकाल के दौरान इसे बंद कर द‍िया गया, रेलवे ने छूट वापसी से करीब 5800 करोड़ की कमाई कर ली है।आरटी आई के तहत पूछे गए सवालों से पता चला क‍ि ट्रेन किराये में सीनियर सिटीजन्स को दी जाने वाली रियायत वापस लेकर बुजुर्गों से 5,800 करोड़ से ज्यादा अतिरिक्त कमाया है।रेल मंत्रालय ने 20 मार्च 20 को कोविड-19 महा मारी के कारण देशभर में लॉक डाउन का ऐलान होने के साथ सीन‍ियर स‍िटीजन को ट्रेन किराये में दी जाने वाली छूट वापस ले ली थी।उस समय तक रेलवे की तरफ से महिलाओं को ट्रेन किराये में 50% पुरुष एवं ट्रांसजेंडर वर्ग के वरिष्ठ नाग रिकों को 40% की छूट दी जाती थी…छूट को खत्‍म क‍िये जाने से सीनियर सिटी जन्स को दूसरे यात्र‍ियों के बराबर किराया देना होता है।

भूपेश की कुल सम्पत्ति
करीब 23 करोड़……

इन पत्थरों के शहर में जीना मुहाल है….. हर शख्श कह रहा है मुझे देवता कहो…..!

छत्तीसगढ़ के पूर्व सीएम भूपेश बघेल ने कांग्रेस उम्मीदवार के तौर पर राजनांदगांव संसदीय क्षेत्र से नामांकन पत्र दाखिल किया है।इस नामांकन पत्र के साथ दिये गये शपथपत्र में उन्होंने 22 करोड़ 60 लाख रुपये से अधिक की संपत्ति होने का विवरण दिया है। उनकी पत्‍नी के नाम पर लगभग 12 करोड़ रुपये की संपत्ति है।भूपेश बघेल ने अपने शपथपत्र में बताया है कि उनके पास लगभग 35 लाख रुपये की महिंद्रा अल्ट्रस कार है, सोने के जेवरात और बैंक खातों में जमा रकम मिलाकर एक करोड़ 30 लाख 56420 रुपए है। वही खेती की जमीन और अन्य भूखंड है जिनकी इस समय बाजार में अनुमानित कीमत 21 करोड़ 29 लाख 99219 रुपये है। इस तरह उनकी कुल संपत्ति 22 करोड़ 60 से ज्यादा की है।वहीं, भूपेश बघेल की पत्‍नी के बैंक खातों में जमा और वाहन आदि की कीमत मिलाकर दो करोड़ 79 लाख 62656 रुपये हैं। इसके अलावा, उनके नाम पर 8 करोड़ 99 लाख 5 हजार 83 रुपये मूल्य की जमीन आदि है।

डॉ महंत के बिगड़े बोल
और फिर सफाई….

पीएम नरेंद्र मोदी के खिलाफ विवादास्पद टिप्पणी के बाद चर्चा में आये नेता प्रतिपक्ष डॉ, चरणदास महंत पर सिया सत तेज हो गई है। पहले ही चरणदास महंत ने अपने बयान से पलटी खाते हुए कहा था कि मेरी भावनाओं को गलत बयानी कर ओछी राजनीति की आड़ में मेरी छत्तीसगढ़िया छवि और शीर्ष नेताओं के साथ संबंधों को खराब करने का काम न करें,नेता प्रतिपक्ष डॉ. चरणदास ने कहा कि संसदीय परंपरा का पूर्ण ज्ञान और छत्तीसगढ़ की संस्कृति को नहीं समझने वाले गलत प्रचार कर रहे हैं। हिन्दी मुहावरा ‘ठीकरा फोड़ना’ मतलब जिम्मेदारी वहन करना होता है, जिसे छत्तीसगढ़ी में ‘मुड़ फोड़ना’ ही कहा जाता है।महंत ने कहा था कि पीएम मोदी का सिरफोड़ने वालाआदमी चाहिए,रात दिन तंग करके, चीन भेजने वाला आदमी चाहिए।सीएम विष्णुदेव साय ने महंत के बयान की निंदा की है।उन्होंने कहा है कि छग की जनता यह बर्दाश्त नहीं करेगी इसके साथ ही भाजपा के अन्य नेताओं ने भी महंत पर निशाना साधा है।

और अब बस…

0पूर्व नौकरशाह और वित्त मंत्री छ्ग की सभी 11लोस सीट भाजपा के जीतने की शर्त लगाने तैयार हैं?
0एक कॉंग्रेस के लोस प्रत्याशी अभी समय है…कहकर समर्थकों को लौटा रहे हैं?
0 वार्ड मेंबर का स्वयं चुनाव हारे एक भाजपा नेता आजकल छ्ग में 11लोस जीतने के टिप्स दें रहे हैं।


Ghoomata Darpan

Ghoomata Darpan

घूमता दर्पण, कोयलांचल में 1993 से विश्वसनीयता के लिए प्रसिद्ध अखबार है, सोशल मीडिया के जमाने मे आपको तेज, सटीक व निष्पक्ष न्यूज पहुचाने के लिए इस वेबसाईट का प्रारंभ किया गया है । संस्थापक संपादक प्रवीण निशी का पत्रकारिता मे तीन दशक का अनुभव है। छत्तीसगढ़ की ग्राउन्ड रिपोर्टिंग तथा देश-दुनिया की तमाम खबरों के विश्लेषण के लिए आज ही देखे घूमता दर्पण

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button