अम्बिकापुरछत्तीसगढ़

श्रीमती पुर्णिमा सिंह सरगुजा जिला में महिलाओं को आगे बढ़ाने में मदद कर रही है-पद्मश्री फुलवासन बाई यादव

Ghoomata Darpan

श्रीमती पुर्णिमा सिंह सरगुजा जिला में महिलाओं को आगे बढ़ाने में मदद कर रही है-पद्मश्री फुलवासन बाई यादव

उदयपुर । अन्तर्राष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर महिला सशक्तिकरण कार्यक्रम पर उदयपुर में पद्मश्री फुलवासन बाई यादव  के मुख्य अतिथ्य में बाल विवाह रोकने, स्वच्छता अभियान, स्वयं सहायता समुह गढन, प्रशिक्षण, नशामुक्ति जागरूकता अभियान पर कार्यक्रम का आयोजन छत्तीसगढ़ शबरी सेवा संस्थान द्वारा किया गया। इस दौरान पद्मश्री पुरस्कार से सम्मानित फुलवासन बाई यादव ने स्वयं सहायता समूह के गठन उद्देश्य और समुह के कार्य के बारे में विस्तार पूर्वक जानकारी प्रदान की। सरगुजा जिला में वनोपज पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध है वनोपज पर आधारित लधु उद्योग लगाने हेतु प्रेरित किया, पद्मश्री फुलवासन बाई यादव ने अपने संघर्ष के बारे में विस्तृत रूप से जानकारी प्रदान करते हुए बताया कि मैं बकरी पालन का कार्य करती थी और आज जो भी हु अपने स्वयं सहायता समूह के माध्यम से हू। सरगुजा जिला के स्वयं सहायता समूह के महिलाएं अच्छा कार्य कर रही है समुह के माध्यम से उत्पादीत सामानों के विक्रय के लिए दुकानों का निर्माण किया जायेगा। मैं उदयपुर में श्रीमती पुर्णिमा सिंह के बुलाने पर आई हूं। श्रीमती पुर्णिमा सिंह सरगुजा जिला में महिलाओं को आगे बढ़ाने में मदद कर रही है। सरगुजा जिला में अगरबत्ती, मशरूम, मोमबत्ती, वनोपज पर आधारित कार्य, महुआ से निर्मित सामानों का काम बहुतायत में हो सकता है। प्रदेश सरकार और जिला प्रशासन के साथ चर्चा कर जल्दी ही ये सभी काम स्वयं सहायता समूह के माध्यम से सुरू करवाने का प्रयास करेंगे।इस अवसर पर छत्तीसगढ़ शबरी सेवा संस्थान के प्रदेश सचिव सुरेन्द्र साहू ने पद्मश्री पुरस्कार से सम्मानित फुलवासन बाई यादव का स्वागत करते हुए कहा कि हम सभी लोग आपका नाम हि सुने थे आज श्रीमती पुर्णिमा सिंह के माध्यम से प्रत्यक्ष मिलने का अवसर मिला। छत्तीसगढ़ शबरी सेवा संस्थान हमेशा आपके साथ मिलकर सभी महिलाओ का सशक्तिकरण करने का प्रयास करेगी जिससे कि महिलाएं आत्मनिर्भर बनके अपने और अपने परिवार का आर्थिक विकास कर सके। कार्यक्रम को डा पाल सिन्हा ,सरीता मंहत, कल्पना भदौरिया ने भी संबोधित करते हुए महिला सशक्तिकरण पर जोर दिया कार्यक्रम का संचालन सावित्री आर्मो ने किया और आभार प्रदर्शन श्रीमती पुर्णिमा सिंह ने करते हुए कहा कि हम लोग पद्मश्री फुलवासन बाई यादव जी के साथ मिलकर महिला सशक्तिकरण के तहत लगातार महिलाओं को आगे बढ़ाने का कार्य कर रहे हैं।और आगे भी करते रहेंगे। कार्यक्रम में मुख्य रूप से अंजनी सिंह, अंजली तिर्की, कल्पना भदोरिया, संतोषी विश्वकर्मा ,अंजु टोप्पो,रजमनीया, संगीता, भगवती,धनाशो,फुलमती, क्रांति रावत, रामनारायण सिंह सहित स्वयं सहायता समूह के महिलाओं एवं सहारा आजिविका संगठन डांड गांव के अध्यक्ष सरिता सिंह, अंजनी सिंह, सावित्री आर्मो सहित छत्तीसगढ़ शबरी सेवा संस्थान का सराहनीय योगदान रहा।


Ghoomata Darpan

Ghoomata Darpan

घूमता दर्पण, कोयलांचल में 1993 से विश्वसनीयता के लिए प्रसिद्ध अखबार है, सोशल मीडिया के जमाने मे आपको तेज, सटीक व निष्पक्ष न्यूज पहुचाने के लिए इस वेबसाईट का प्रारंभ किया गया है । संस्थापक संपादक प्रवीण निशी का पत्रकारिता मे तीन दशक का अनुभव है। छत्तीसगढ़ की ग्राउन्ड रिपोर्टिंग तथा देश-दुनिया की तमाम खबरों के विश्लेषण के लिए आज ही देखे घूमता दर्पण

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button