छत्तीसगढ़क्राइम

एसईसीएल चिरमिरी क्षेत्र का वर्कशॉप बना कबाडियों का अड्डा, बफ़ोक होकर कबाड़ी ले जा रहे हैं लोहा आखिर इनके ऊपर किसका है हाथ ? 

Ghoomata Darpan

एसईसीएल चिरमिरी क्षेत्र का वर्कशॉप बना कबाडियों का अड्डा, बफ़ोक होकर कबाड़ी ले जा रहे हैं लोहा आखिर इनके ऊपर किसका है हाथ ? 

चिरमिरी । ( राजेश उपाध्याय)  एसईसीएल  चिरमिरी क्षेत्र के कर्मचारी अब वहां भयभीत होकर ड्यूटी करने को मजबूर हैं। दिनदहाड़े झुंड में धारदार हथियारों से लैस होकर कबाड़ी चोरी को अंजाम दे रहे हैं। डरा धमका कर लोहे के बने कई बड़े-बड़े शेड को काट चुके हैं।
लगातार चोरी के बाद भी पुलिस अमला कुंभकरणी नींद में ,
जहां एक ओर चोरों का आतंक मचा हुआ है, वहीं दूसरी ओर एसईसीएल के आला अधिकारी एसी कमरे में सुखद ठंडक का आनंद ले रहे रहे हैं, और कर्मचारी कबाड़ीयों के आगे लाचार हैं। कार्यरत कर्मचारियों के द्वारा चोरी के संबंध में कुरासिया सबएरिया अधिकारी को लिखित सूचना दी गई। लेकिन आज दिनांक तक प्रबंधन के द्वारा कोई भी कार्यवाही नहीं की गई। ऐसा प्रतीत होता मानो प्रबंधन के द्वारा एसईसीएल के धरोहर को अप्रत्यक्ष रूप से कबाड़ीओ को सौप दिया गया हो।
एसईसीएल सहायक उपसुरक्षा निरीक्षक सरजू साय से दूरभाष के माध्यम से पत्रकारों ने चर्चा की तो श्री साय ने जानकारी देते हुए बताया कि चोरी के संबंध में मेरे द्वारा लिखित जानकारी कुरासिया सबएरिया अधिकारी अरुण सिंह चौहान को दी जा चुकी है। सोचनीय पहलु तो यह है कि भविष्य मे चोरों के द्वारा किसी अप्रिय घटना को अंजाम दिया जाता है, तो ऐसी परिस्थिति में उसका जिम्मेदार कौन होगा?


Ghoomata Darpan

Ghoomata Darpan

घूमता दर्पण, कोयलांचल में 1993 से विश्वसनीयता के लिए प्रसिद्ध अखबार है, सोशल मीडिया के जमाने मे आपको तेज, सटीक व निष्पक्ष न्यूज पहुचाने के लिए इस वेबसाईट का प्रारंभ किया गया है । संस्थापक संपादक प्रवीण निशी का पत्रकारिता मे तीन दशक का अनुभव है। छत्तीसगढ़ की ग्राउन्ड रिपोर्टिंग तथा देश-दुनिया की तमाम खबरों के विश्लेषण के लिए आज ही देखे घूमता दर्पण

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button