छत्तीसगढ़

समय-सीमा में पूरा करें अमृत सरोवरों का निर्माण कार्य – नम्रता जैन

नरवा विकास, गोधन न्याय, मनरेगा, सहित सभी विभागीय योजनाओं की समीक्षा बैठक संपन्न

Ghoomata Darpan

समय-सीमा में पूरा करें अमृत सरोवरों का निर्माण कार्य - नम्रता जैन

कोरिया/एमसीबी दिनांक 15/3/23 – मिशन अमृत सरोवर के तहत आगामी माह में लक्ष्य के अनुरूप सभी अमृत सरोवरों का निर्माण व उन्नयन कार्य समय सीमा में पूरा करें तथा नरवा मिशन के अंतर्गत लक्षित नालों के विकास व संरक्षण का कार्य मई माह तक अनिवार्य तौर पर पूरा कराएं। उक्ताशय के निर्देश जिला पंचायत की मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्रीमती नम्रता जैन ने दिए। विभागीय योजनाओं की साप्ताहिक समीक्षा बैठक जिला पंचायत के मंथन कक्ष में संपन्न हुई। इसमें पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग की सभी योजनाओं की समीक्षा करते हुए जिला पंचायत सीइओ ने कहा कि तालाब जलस्रोत के परंपरागत संसाधन हैं और इनका भूमिगत जलआवर्धन में भी विषेष महत्व है। महात्मा गांधी नरेगा योजना अंतर्गत कोरिया एवं एमसीबी जिले में कुल 150 अमृत सरोवरों का निर्माण एवं उन्नयन किया जा रहा है इस कार्य को सर्वोच्च प्राथमिकता में लेते हुए तय समय सीमा में पूरा कराएं। तकनीकी अधिकारियों को इस कार्य का निरंतर पर्यवेक्षण करते हुए उन्होंने सारे कार्य गुणवत्ता के साथ पूरा कराने के निर्देश दिए। नरवा विकास कार्यों की समीक्षा करते हुए जिला पंचायत सीइओ ने कहा कि प्रत्येक जनपद पंचायत में एक आदर्श नरवा का विकास किया जाना है। मुख्यमंत्री जी की मंशानुरूप इस कार्य को मानक स्तर पर पूरा करें ताकि आने वाले समय में यह एक मानक प्रादर्श की तरह प्रचारित भी किया जा सके। रिज टू वैली एप्रोच में नरवा विकास कार्यों को पूरा करने के लिए उन्होंने जनपद वार समय सीमा तय की। प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत स्वीकृत आवासों को पूरा कराने के लिए प्रत्येक जनपद वार समीक्षा करते हुए जिला पंचायत सीइओ ने कहा कि जिन हितग्राहियों को दूसरी और तीसरी किस्त प्राप्त हो चुकी हैं उनके आवास को बनाने में मदद करने के लिए तकनीकी सहायक प्रतिदिन अपने संबंधित ग्राम पंचायतों में भ्रमण करें और हितग्राहियों की समस्याओं का निराकरण करने में मदद करें ताकि बारिश के पहले ही सभी हितग्राही पक्के आवास का लाभ ले सकें। ग्राम पंचायतों में आवासों की प्रगति के अनुसार उनकी जियो टैगिंग कार्य को तेज करने के निर्देश देते हुए सीइओ ने इस कार्य में ग्राम पंचायतों में कार्यरत रोजगार सहायकों की मदद लेने को कहा। गोधन न्याय योजना की समीक्षा करते हुए उन्होंने कृषि विभाग के अधिकारियों को वर्मी कंपोस्ट की लैब रिपोर्ट कंपोस्ट की बोरियों में चस्पा कराने के निर्देश दिए। सहकारी समितियों में क्षमतानुसार वर्मी कंपोस्ट के भंडारण के लिए उन्होने सहायक पंजीयक सहकारी समिति को निर्देशित किया। स्वच्छ भारत मिशन की समीक्षा करते हुए श्रीमती जैन ने व्यक्तिगत शौचालय के पात्र हितग्राहियों को कार्य पूरा करते ही प्रोत्साहन राशि प्रदान करने के निर्देश दिए। समीक्षा बैठक में सीइओ ने मनरेगा योजना की समीक्षा करते हुए दो वर्ष पूर्व तक के स्वीकृत सभी कार्यों के उपयोगिता और पूर्णता प्रमाण पत्र एक सप्ताह में अनिवार्य तौर पर ऑनलाइन एंट्री करने के निर्देश दिए। सभी लाइन एजेंसी के लंबित कार्यों की सूची एक सप्ताह में अद्यतन करके आनलाइन सीसी दर्ज करते हुए उन्होंने भुगतान के लिए लंबित कार्यों को दो दिवस में पूरा करने के निर्देश दिए। इस समीक्षा बैठक में कोरिया एवं एमसीबी जिले के सभी जनपद पंचायत सीइओ, कार्यपालन अभियंता एवं एसडीओ ग्रामीण यांत्रिकी सेवा, सभी कार्यक्रम अधिकारी तथा तकनीकी सहायक एवं अन्य विभागों के विभाग प्रमुख तथा जिला पंचायत के सभी योजना प्रमुख अपनी पूरी टीम के साथ उपस्थित रहे।


Ghoomata Darpan

Ghoomata Darpan

घूमता दर्पण, कोयलांचल में 1993 से विश्वसनीयता के लिए प्रसिद्ध अखबार है, सोशल मीडिया के जमाने मे आपको तेज, सटीक व निष्पक्ष न्यूज पहुचाने के लिए इस वेबसाईट का प्रारंभ किया गया है । संस्थापक प्रधान संपादक प्रवीण निशी का पत्रकारिता मे तीन दशक का अनुभव है। छत्तीसगढ़ की ग्राउन्ड रिपोर्टिंग तथा देश-दुनिया की तमाम खबरों के विश्लेषण के लिए आज ही देखे घूमता दर्पण

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button